होम आइसोलेशन का सही तरीका।

देशभर में कोरोना महामारी बढ़ती जा रही है। दिन प्रतिदिन लाखों मामले सामने आ रहे हैं हॉस्पिटल में बेड,ऑक्सीजन, दवाई सभी का अभाव हो रहा है। ऐसे संकट के समय अगर आप कोरोना वायरस की चपेट में आ जाते हैं तो आपको होम आइसोलेशन में ही रहना पड़ेगा। घर पर रहकर सही उपचार से भी आप कोरोना जैसी बीमारी से ठीक हो सकते हैं क्योंकि लगभग 50% से भी अधिक लोग घर पर ही ठीक हुए हैं। तो आइए आज हम आपको बताते हैं घर क्वारंटाइन रहने का सही तरीका क्या है।

होम क्वारंटाइन होते समय ध्यान देने योग्य बातें।

अपनों का बचाव है जरूरी।

घर पर क्वारंटाइन होते समय ध्यान रखें कि आपके अपने संक्रमण के दायरे में न आए। घर पर ऐसी जगह क्वारंटाइन हो जहां कोई ज्यादा आता-जाता ना हो। बुजुर्गों और बच्चों को उस जगह पर जाने ना दें। खाना देने के लिए घर का कोई यंग सदस्य ही जाए। अपने खाने के लिए अलग से बर्तन रखें जब खाना आए उसी बर्तन में खाना डलवा कर रख लें।

अपनी सभी उपयोगी वस्तुओं को धूप लगवाएं।

क्वारंटाइन रहते समय कम से कम वस्तुओं को छुए और कम से कम वस्तुओं का इस्तेमाल करें। हो सके तो 3-4 जोड़ी वस्त्र ही निकाले और उन्हें ही इस्तेमाल करते रहे। इस्तेमाल में लाई गई हर चीज को धूप जरूर लगवाएं। इससे उन वस्तुओं पर लगे वायरस मर जाते हैं। आपके द्वारा इस्तेमाल किए गए मास्क गलबज व रुमाल आदि को एक अलग से पॉलिथीन मैं बंद करके रख दें। जब 14 दिन बाद आप पूर्णता अपनी दिनचर्या में आ जाएंगे तो उन्हें अच्छे से डिस्पोज कर दे।

समय-समय पर चेकअप और दवाइयां है जरूरी।

होम आइसोलेशन के समय जल्दी-जल्दी तापमान जरूर मापते रहे और रूटीन में दवाइयां लेते रहे। इसके साथ साथ अगर आप को सांस लेने में परेशानी हो तो डॉक्टर की सलाह जरूर लें। दिन में 3-4 बार भाप जरूर लें। यदि आपके पास स्टीमर है तो बहुत अच्छी बात है यदि नहीं है तो गर्म पानी से भी भाग ले सकते हैं। काढ़े का सेवन भी समय-समय पर करते रहें। इससे आपकी इम्यूनिटी मजबूत होती है। ठंडी चीजों से परहेज करें। गर्म पानी का सेवन ज्यादा से ज्यादा करें।

विटामिन रहित चीजों का सेवन है जरूरी।

कोरोना के मरीजों को अपनी इम्यूनिटी को मजबूत रखने की बहुत जरूरत होती है। इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए हम विटामिन रहित चीजें जैसे हरी सब्जियां,ड्राई फूड्स, फल आदि पोस्टिक आहार लें। बाहर के खाने से बचें। कोरोना बीमारी में हमें सबसे ज्यादा विटामिन सी और डी की जरूरत होती है। इसके लिए संतरा,केला और नींबू पानी ज्यादा से ज्यादा लें।

दिनचर्या में रूटीन जरूरी है।

कोरोना होने से शरीर की इम्युनिटी कम होती जाती है। इससे शरीर में थकान होना आम है। इस कारण मरीज हमेशा बिस्तर को पकड़े रखता है। जो कि बिल्कुल खतरनाक है। दिनभर पड़े रहने से इम्यूनिटी और अधिक घटती है इसलिए इस समय एक रूटीन जरूर बनाएं। सुबह सुबह जल्दी उठकर व्यायाम जरूर करें। शरीर को हमेशा व्यस्त रखें। अगर हो सके तो कमरे के अंदर ही टहले। आप जितना ज्यादा अपने आप को व्यस्त रखोगे इससे आपके अंदर नकटी विचार पैदा नहीं होंगे। जितना हो सके सकारात्मक दृष्टिकोण बनाए रखें।

Leave a Comment